CSS In Hindi:-

CSS का पूरा नाम है कैस्केडिंग स्टाइल शीट्स (Cascading Style Sheets) ।

 

CSS(Cascading Style Sheets) कैस्केडिंग स्टाइल शीट्स किसी HTML से बनाये गए वेबसाइट को सुंदर बनाता है जैसा इसका नाम में ही है Style Sheets मतलब ये वेबसाइट में स्टाइल ऐड करने के काम आता है ।

css

इस इमेज को देख कर आप यह समझ सकते हैं कि एचटीएमएल वह आधार है जिससे यह केक बना है और CSS वह मलाई है जो इस केक को सुंदर बनाता है।

CSS का कोई विकल्प नहीं है मतलब कि अगर आप चाहे या ना चाहे अपनी वेबसाइट को सुंदर बनाना है तो आपको सीएसएस का उपयोग अपने वेबसाइट में करना ही होगा ।

सीएसएस की विशेषताएं निम्नलिखित हैं :-

  1. CSS की सबसे बड़ी खासियत यह है कि हम एक बार लिखे सीएसएस कोड को अपने वेबसाइट में बार-बार उपयोग कर सकते हैं , मतलब बार-बार हमें एक ही कोड नहीं लिखना पड़ता है, जिससे समय की बचत होती है ।
  2. अगर हम सीएसएस के थोड़े से कोर्ट में परिवर्तन कर दें तो पूरे वेबसाइट का डिजाइन ही बदल जाता है जिससे हमें वेबसाइट को फिर से एक नया डिज़ाइन देने में बहुत आसानी होती है ।
  3. अगर हम चाहे तो सीएसएस कोड को html पेज के साथ भी लिख सकते हैं या चाहे तो एक अलग पेज बना कर भी हम उसमें सीएसएस कोड को लिख सकते हैं ।

 

CSS सीखने के लिए आपको दो चीजों की जरूरत पड़ती है पहला है Text-Editor (टेक्स्ट एडिटर) और दूसरा है Web-Browser (वेब ब्राउज़र) Text-Editor जैसे कि Notepad(नोटपेड) या Notepad++(नोटपेड प्लस प्लस) कोई भी टेक्स्ट एडिटर का उपयोग आप कर सकते हैं और Web-Browser जैसे कि mozilla firefox (मोज़िला फ़ायरफ़ॉक्स) , google chrome (गूगल क्रोम) या internet explorer( इंटरनेट एक्सप्लोरर) किसी भी वेब ब्राउज़र का उपयोग करके आप CSS सीख सकते हैं |

 

सीएसएस सीखना बहुत ही आसान है अगर आप कोशिश करते हैं तो सीएसएस को कुछ ही सप्ताह में बहुत अच्छे से सीख सकते हैं और सीएसएस की मदद से अपनी वेबसाइट को बहुत ही सुंदर बना सकते हैं ।

Next:- First CSS Code In Hindi :-