Variable In C++ Programming in Hindi:-

Variable को आप Computer Memory में एक स्थान (Location) मान सकते हैं जहां आप अपने Program में उपयोग किए जाने वाले Data जैसे किसी Sentence, Number, Word, Character को जमा करके रख सकते हैं |

एक variable बनाने का मतलब data को रखने के लिए कंप्यूटर memory में स्थान (location) आवंटित (Assign) करना है।

Variable को उनके संबंधित memory location की पहचान करने के लिए unique नाम दिए जाता है | जैसे कि x,y,z, ram, name, abc etc.

लेकिन एक ही प्रोग्राम में दो अलग-अलग बने variable का नाम कभी एक नहीं हो सकता मतलब की एक ही प्रोग्राम में आप दो अलग-अलग X नाम का variable नहीं बना सकते हैं |

आपको जब प्रोग्राम में variable बनाने की आवश्यकता होती है तब आप किसी नाम या word को variable के नाम की तरह उपयोग में ले सकते हैं और उसके अंदर Data को जमा करवा सकते हैं |

वेरिएबल के अंदर डाटा को जमा करने के लिए आपको assignment operator (=) का उपयोग करना होता है यह variable के अंदर Data को जमा करवा देता है | चलिए इसका एक उदाहरण देख लेते हैं मान लीजिए कि मुझे website नाम web3tutorial.com को variable के अंदर जमा करवाना है तो इसके लिए मुझे निम्नलिखित तरीके से variable Define करना होगा |

char website = “web3tutorial.com”;

इसी तरह से अगर मुझे किसी संख्या (Number) को किसी variable के अंदर जमा करना होगा तो उसके लिए मुझे निम्नलिखित तरीके से variable डिफाइन करना होगा

Int average_grade = 90;

Int x =20;

तो ऊपर आपने देखा कि हम किस तरह से बड़ी आसानी से Programming Language में variable बना सकते हैं और उसके अंदर अपने डाटा को Store करवा सकते |

लेकिन यहां पर ध्यान देने वाली बात यह है कि जब हम किसी शब्द या वाक्य को Variable के अंदर जमा करते हैं तब हमें char keyword का उपयोग करना होता है और जब हम किसी संख्या को Variable के अंदर जमा करते हैं तब हमें int keyword का उपयोग करना होता है साथ ही किसी शब्द या वाक्य को variable में जमा करते वक्त हमें ” चिन्ह का उपयोग करना पड़ता है लेकिन किसी संख्या को Variable में जमा करते वक्त हमें ” चिन्ह का उपयोग नहीं करना पड़ता है |

दोस्तों Int और char C++ Programming Language के pre define keyword है जिनका उपयोग हमें किसी Data को Variable के अंदर जमा करने के लिए करना पड़ता है | इसके साथ ही C++ Programming Language में और भी कई प्रकार के Keyword हैं जिनका उपयोग विशेष प्रकार के Data को Variable में जमा करने के लिए होता है जैसे कि float keyword का उपयोग Floating point नंबर जैसे की 1.025 या 5.4558 को Variable में जमा करने के लिए किया जाता है |

इसी तरह से और भी कई Keyword है C++ Programming Language में जिनको हम अगले पाठ में विस्तार से पढ़ेंगे |

 

Data Type Range In Hindi