AngularJs Directives In Hindi:-

पिछले पाठ में मतलब की Angular Module के पाठ में मैंने आपको ng-app डायरेक्टिव(Directive) के बारे में बताया था पर आप को यह नहीं बताया कि डायरेक्टिव(Directive) क्या होता है |

Angular डायरेक्टिव(Directive) का उपयोग HTML के कार्य क्षमता का विस्तार करने के लिए किया जाता है AngularJs में हमें पहले से बनाए हुए कई सारे डायरेक्टिव(Directive) मिल जाता है जिसका उपयोग हम अपनी जरूरत के हिसाब से अपने प्रोजेक्ट में कर सकते हैं और इसके साथ ही अगर हम चाहे तो अपनी जरूरत के अनुसार खुद का डायरेक्टिव(Directive) भी बना सकते हैं |

डायरेक्टिव(Directive) की मदद से प्रोग्रामर या सॉफ्टवेयर डेवलपर इस प्रकार के Component या घटक बना सकते हैं जिनका उपयोग पूरे एप्लीकेशन में बार-बार किया जा सके |

हम डायरेक्टिव(Directive) को HTML Tag के साथ कई प्रकार से उपयोग में ले सकते हैं लेकिन सबसे प्रचलित तरीका है कि डायरेक्टिव(Directive) को हम एक attribute की तरह HTML Tag के साथ जोड़ दें | attribute की तरह किसी डायरेक्टिव(Directive) को HTML Tag के साथ जोड़ने के लिए हमें HTML टैग के साथ उस डायरेक्टिव(Directive) का नाम लिखना होता है |

उदाहरण के लिए अगर हम ng-app डायरेक्टिव(Directive) को <div> के साथ जोड़ने चाहें तो इस प्रकार से होगा :-

<html>
<head>
<script src="https://ajax.googleapis.com/ajax/libs/angularjs/1.4.8/angular.min.js"></script>
</head>
<body>
<div ng-app></div>
</body>
</html>

चलिए हम AngularJs के Pre-define मतलब पहले से बने हुए कुछ डायरेक्टिव(Directive) का उदाहरण देख लेते हैं :-

Ng-app directive :- ng-app directive AngularJs का Pre-define डायरेक्टिव(Directive) है जिसका उपयोग हम अपने प्रोजेक्ट से Angular Module को जोड़ने के लिए करते हैं|

ng-repeat, ng-init, ng-model, ng-bind, ng-Bind-Html , ng-Repeat , ng-Model, ng-Click, ng-Disable , ng-Class , ng-Options, ng-Style, ng-Show, ng–Hide, ng-If , ng-Include यह सब Angular Js का Pre-define डायरेक्टिव(Directive) है जिनका उपयोग हम एक-एक करके आने वाले पाठ में सीखेंगे |

AngularJs में हम custom directive भी बना सकते है | custom directive बनाने की प्रक्रिया भी हम आने बाले पाठ में सीखेंगे |

 

AngularJs Controller In Hindi :-